Ohhhh

Please Pause/Stop Your Ad Blocker.

Hit enter after type your search item

नागरिक संशोधन कानून पर पाकिस्तान फैला रहा अफवाह, हाथ लगे सबूत

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून के लोकसभा और राज्यसभा में पास होने के बाद पाकिस्तान (Pakistan) बौखलाया हुआ है. पाकिस्तान के प्रधानंमत्री इमरान खान और उनके मंत्री इस कानून पर अपना राग अलाप चुके हैं. अब पाकिस्तान अलग-अलग हथकंडे अपनाकर भारत के खिलाफ साजिश रच रहा है. सूत्रों की मानें तो पाकिस्तान सोशल मीडिया (Social Media) पर भारतीयों के फेक अकाउंट (Fake Account) बनाकर अफवाह फैला रहा है. बताया जा रहा है कि इन फेक अकाउंट की संख्या हजारों में है.

पाकिस्तान में 5000 एक्टिव फेक अकाउंट का पता चला है जिनके जरिए ये नागरिकता संशोधन कानून के बारे में गलत अफवाह फैला रहे हैं. सबसे खास बात यह है कि ये सारे फेक अकाउंट भारतीयों के नाम से बनाए गए हैं जिससे लोगों को भ्रमित करने में आसानी रहे. भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने बनाए गए फेक अकाउंट पर कड़ी नजर रखनी शुरु कर दी है. जिससे देश में किसी भी तरह का असुरक्षा का भाव पाकिस्तान न फैला पाए.

इमरान को भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार का जवाब
इससे पहले इमरान खान ने कहा था कि यह ‘झूठ’ पर आधारित है. इमरान को जवाब देते हुए भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा था कि, ‘पाक पीएम इमरान खान को गैर-जरूरी बयान देने के बजाय अपने देश में अल्पसंख्यकों की स्थिति पर ध्यान देना चाहिए.

इमरान का नागरिकता संशोधन विधेयक (सीएबी) के बारे में ट्वीट 
इमरान के नागरिकता संशोधन विधेयक (सीएबी) के बारे में ट्वीट करते ही लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरु कर दिया. लोकसभा व राज्यसभा दोनों सदनों से इस विधेयक के पारित होने के बाद खान की टिप्पणी पर लोगों ने पलटवार करते हुए सोशल मीडिया पर सवाल दागे और कुछ लोगों ने जमकर मजाक भी बनाया. 

खान ने ट्वीट किया, “हम भारतीय लोकसभा के नागरिकता कानून की कड़ी निंदा करते हैं, जो अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार कानून और पाकिस्तान के साथ द्विपक्षीय समझौतों के सभी मानदंडों का उल्लंघन करता है.”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This div height required for enabling the sticky sidebar